आंवला कई बीमारियों को रखता है आपसे दूर

0
318

आंवला मानव शरीर को निरोग रखने, कई रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ाने में अत्यंत गुणकारी फल है। यह हर उम्र के स्त्री, पुरुष व बच्चों के लिए लाभदायक है।
1. आंवला का रस आंखों के लिए बहुत लाभप्रद है। यह आंखों की दृष्टि बढ़ाता है। यह मोतियाबिंद, रतोंधी और कलर ब्लाइंडनेस से परेशान मरीजों के लिए फायदेमंद है।

2. आंवला मेटाबोलिक क्रियाशीलता को बढ़ाता है। इससे हमारा शरीर निरोग होता है। आंवला भोजन को पचाने में मदद करता है। यह पाचनक्रिया में मददगार होता है। अगर पांच ग्राम चूर्ण पानी में भिंगो कर सुबह-शाम लें तो खट्टे डकार व गैस की शिकायत दूर होती है।

3. आंवला में बैक्टिरिया से लड़ने की क्षमता होती है। इसके सेवन से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और हमारा शरीर बाहरी बीमारियों से बचता है।

4. डायबिटिक मरीज को आंवला से बहुत लाभ होता है। आवला इंसुलिन होरमोंस को सुदृढ़ करता है। इसमें क्रेमियम तत्व पाया जाता है । यह खून में सुगर की मात्रा को नियंत्रित करता है। आंवला के रस में शहद मिलाकर सेवन करने से डायबिटिक मरीज को बहुत फायदा होता है।

5. आंवला का चूर्ण हमे मूत्र संबंधी विकारों से राहत दिलाता है। आंवला के छाल और इसकी पत्तियों को पानी में उबाल कर छान लें और उसका सेवन करें तो किडनी में होने वाले संक्रमण में बहुत आराम मिलता है।

6. महिलाओं को माहवारी की समस्या में आंवला से बहुत राहत मिलती है। माहवारी का देर से आना, ज्यादा रक्तस्राव होना, रक्त का जल्दी-जल्दी आना या कम आना, पेट में दर्द होना, ऐसी परेशानियों में आंवला का सेवन फायदेमंद है।

7: महिलाओं और पुरुषों में प्रजनन क्षमता को सुदृढ़ करने में आंवला बहुत ही फायदेमंद है। पुरुषों में शुक्राणु की क्रियाशीलता और मात्रा बढ़ती है और महिलाओं में अंडाणु अच्छे और स्वस्थ बनते हैं। माहवारी नियमित होती है।

8. आंवला के सेवन से हमारे शरीर की हड्डियों को ताकत मिलती है। आंवला के सेवन से हड्डी की मजबूती बढ़ती है और ओस्ट्रोपोरोसिस और आर्थरपाइटिस एवं जोरों के दर्द में भी आराम मिलता है।

9. आंवला के सेवल ने तनाव से मुक्ति मिलती है। शरीर को आराम मिलता है। अच्छी नींद आती है। आंवला के तेल को बालों की जड़ में लगाने से कलर ब्लाइंडनेस से छुटकारा मिलता है।

10. आंवला हृदय की मांसपेशियों को निरोग करता है। इससे हृदय स्वस्थ हो जाता है। आंवला हृदय की नलिकाओं में आने वाली रुकावटें दूर करता है। यह खराब कलेस्ट्रोल को खत्म कर, अच्छे कलेस्ट्रोल को बनाने में सहायक होता है।