एयरटेल ने आइडिया-वोडाफोन के विलय पर ट्राई पर साधा निशाना

0
117

देश में मोबाइल दूरसंचार क्षेत्र की दिग्गज कंपनी एयरटेल ने वोडाफोन और आइडिया के बीच विलय को लेकर बातचीत का स्वागत किया है। हालांकि कंपनी ने ट्राई पर बिना नाम लिए निशाना साधते हुए कहा कि ऐसा उस नीति के डर से नहीं होना चाहिए, जिसके चलते एक कंपनी (रिलायंस जियो) को फायदा पहुंचाया जा रहा है। एयरटेल ने मंगलवार को कहा कि ऐसा विलय किसी विशेष कंपनी को लाभ देने की वजह से पैदा हुई दबाव की स्थिति के चलते नहीं होना चाहिए।

भारती एयरटेल (भारत और दक्षिण एशिया) के प्रबंध निदेशक एवं सीईओ गोपाल विट्टल ने कहा, ‘हम वोडाफोन और आइडिया सेल्युलर के बीच प्रस्तावित विलय की खबर का स्वागत करते हैं। हालांकि, यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि एकीकरण ऐसी जबरन स्थिति का नतीजा न हो, जो किसी विशेष कंपनी को अनुचित अवसर देने की वजह से पैदा हुई है और इससे अन्य की व्यवहार्यता पूरी तरह नष्ट हो गई हो।’

ब्रिटेन के वोडाफोन समूह ने सोमवार को इस बात की पुष्टि की थी कि उसकी अपनी भारतीय इकाई के आइडिया सेल्युलर में विलय को लेकर बाचतीत चल रही है। यह सौदा पूर्ण शेयर सौदे में होगा और इससे देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी अस्तित्व में आएगी। माना जा रहा है कि यह संयुक्त इकाई बाजार की मौजूदा अग्रणी कंपनी एयरटेल तथा आक्रामक तरीके से बाजार में उतरी नई कंपनी रिलायंस जियो को कड़ी प्रतिस्पर्धा पेश करेगी।