जन्मदिन पर नहीं करे ये काम,होगी उम्र कम

0
178

भारतीय संस्कृति में जन्मदिन को बहुत महत्वपूर्ण माना गया है। इसीलिए जन्मदिन को उत्सव के रूप में मनाया जाता है। ज्योत‌िषशास्‍त्र में भी जन्मदिन का बहुत महत्व है। जन्म के दिन, समय और स्थान के आधार पर ही व्यक्त‌ि की वर्ष कुंडली बनती है। इसल‌िए जन्मद‌िन को बहुत ही खास तरीके से मनाना चाह‌िए।

आपके ग्रह आपके प्रत‌िकूल न हों, इसल‌िए जन्मद‌िन के द‌िन कुछ ऐसे काम हैं जो नहीं करने चाह‌िए।

– जिस दिन आपका जन्मद‌िन हो उस दिन बाल और नाखून नहीं कटवाना चाहिए। ये आयु के ल‌िए अच्छा नहीं माने गए हैं।

– जिस दिन जन्मद‌िन हो उस दिन उत्सव मनाने के ल‌िए जीव की हत्या नहीं करनी चाह‌िए यानी मांस का सेवन जन्मद‌िन के द‌िन नहीं करना चाह‌िए। इससे आशीर्वाद के बजाय शाप म‌िलता है ज‌िससे आपको रोग और व‌िवादों का सामना करना पड़ता है

– जन्मदिन के दिन किसी साधु या भिखारी का अपमान नहीं करना चाहिए। यदि कोई याचक आपके दरवाजे पर आए तो उसे भोजन करवाएं या दान जरूर दें। इससे आयु और स्वास्‍थ्‍य पर अनुकूल प्रभाव पड़ता है।

– जन्मदिन पर भूलकर भी शराब का सेवन नहीं करना चाहिए। जो लोग ऐसा करते है वह अपने हाथों शन‌ि को अपना शत्रु बना लेते हैं। शास्‍त्रों में कहा गया है क‌ि जो व्यक्त‌ि मद‌िरा से परहेज करता है, वह साढेसाती में भी परेशान नहीं होता और जो मद‌िरापान करता है वह ब‌िना साढेसाती के भी दुख पाता है।

– जन्मद‌िन के द‌िन किसी से लड़ाई-झगड़ा नहीं करना चाहिए, बल्कि जिनसे विरोध हो, उनसे भी प्रेमभाव से म‌िलना चाह‌िए। शास्‍त्रों के अनुसार जो व्यक्त‌ि इस द‌िन वाद-व‌िवाद में पड़ता है, उसका पूरा साल व‌िवादों में गुजरता है।

– इस दिन गर्म पानी से स्नान करना शास्‍त्रों के अनुसार अनुकूल नहीं है। गंगाजल या क‌िसी अन्य पव‌ित्र जल को स्नान करने के पानी में म‌िलाकर स्नान करना शुभ माना गया है।

– जन्मद‌िन के द‌िन माता-प‌िता और बड़े-बुजुर्गों को कड़वे शब्द न बोलें, बल्कि उनका आशीर्वाद लेना चाहिए। इनका सदैव सम्मान करना चाहिए।