जिले के सभी हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूलों में सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम के हुए कार्यक्रम

0

शिवपुरी  – ईपत्रकार.कॉम |स्वामी विवेकानंद के जन्म दिवस के अवसर पर आज प्रदेश सहित जिले में भी सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम के कार्यक्रम आयोजित किए गए। जिला स्तरीय मुख्य कार्यक्रम जिला मुख्यालय पर स्थित शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय क्रमांक- 02 में सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।

कार्यक्रम में कलेक्टर श्री तरूण राठी, पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार पाण्डे, अपर कलेक्टर डॉ.ए.के.रोहतगी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री कमल मौर्य, जिला शिक्षा अधिकारी श्री पी.एस.गिल, महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री ओ.पी.पाण्डे, शा.उ.मा.विद्यालय क्रमांक-02 के प्राचार्य श्री ए.के.रोहित, शा.उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय क्रमांक-01 के प्राचार्य श्री बी.के.श्रीवास्तव, सहायक संचालक शिक्षा श्री अशोक श्रीवास्तव, परियोजना समन्वयक श्री शिरोमणि दुबे, श्री राजीव श्रीवास्तव सहित शिक्षको एवं उक्त संस्थाओं के छात्र-छात्राओं द्वारा सामूहिक सूर्य नमस्कार के कार्यक्रम में भाग लेकर योग की 12 मुद्राओं के आसन किए। योग की विभिन्न मुद्राए योग गुरू श्री रघुवीर पारासर ने कराई।

इस मौके पर स्वामी विवेकानंद जी द्वारा विश्व धर्म संसद सम्मेलन में दिए गए भाषण का हिन्दी अनुवाद का भी आकाशवाणी के माध्यम से प्रसारण किया गया। प्रसारण भाषण में स्वामी विवेकानंद ने कहा कि मुझे भारत वर्ष पर गर्व है कि दुनिया में भारत देश ऐसी जन्मभूमि है, जहां सभी धर्मों के प्रति आपसी भाईचारा, प्रेम, सदभावना होने के साथ-साथ पीड़ितों को आश्रय प्राप्त होता है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आकाशवाणी के माध्यम से दिए गए अपने भाषण में कहा कि 12 जनवरी स्वामी विवेकानंद जी का जन्म दिवस है और इस दिवस को युवा दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि पूरी दूनिया में 21 जून को योग दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इस वर्ष 72 देशों ने योग दिवस मनाना स्वीकार किया है।

मुख्यमंत्री ने सभी छात्र-छात्राओं से आग्रह किया कि वे शिक्षा अध्ययन के साथ योग भी करें। सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम के प्रतिदिन करने से जहां शरीर स्वस्थ रहेगा, वहीं मस्तिष्क भी स्वस्थ रहेगा और प्रदेश भी स्वस्थ बनेगा। उन्होंने मुख्यमंत्री मेद्यावी छात्र प्रोत्साहन योजना की जानकारी देते हुए कहा कि कक्षा 12वीं में 70 प्रतिशत से अधिक एवं सीबीएससी की परीक्षा में 85 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले छात्र-छात्राओं के आगे के अध्ययन के लिए संपूर्ण फीस की जवाबदारी राज्य सरकार लेगी। कार्यक्रम के अंत में संस्था के शा.उ.मा.वि. क्रमांक-02 के प्राचार्य श्री ए.के.रोहित ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।