ठाकरे-फाकरे, मोदी या भागवत, गांधी या पवार से डरने की जरूरत नहीं है-अकबरुद्दीन ओवैसी

0
13

ऑल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुसलमीन पार्टी के नेता व विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी ने पुणे महानगरपालिका की चुनावी सभा में पीएम मोदी और बीजेपी पर तीखा प्रहार बोला. बुधवार को पेश किए गए बजट पर भी उन्होंने हल्ला बोला. उन्होंने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि मोदी हरदम मित्रों-मित्रों करते रहते हैं. वे अपनी सभा के मार्फत पीएम मोदी से ब्लैक मनी के बारे में पूछते हैं. वे पूछते हैं कि इस बजट में गरीबों, मिडिल क्लास, लोअर व हाई क्लास के लिए क्या है? वे कहते हैं कि ऐसे आदमी को वजीरेआजम बनाने से तो कुछ भी हासिल नहीं होगा.

निशाने पर सिर्फ पीएम मोदी
अकबरुद्दीन ओवैसी के अधिकांश भाषण में सिर्फ नरेन्द्र मोदी का जिक्र था. वे कहते हैं कि मोदी नाटक करने में माहिर हैं. वे जापान में हसते हैं और हिंदुस्तान में कदम रखते ही रोना शुरू कर देते हैं. ओवैसी पीएम मोदी का मजाक उड़ाते हुए कहते हैं कि पीएम मोदी झोले का जिक्र करते हैं. अरे जाओ बाबा. जब भी जाना तो बोल देना- आपके चाय की केतली, थोड़ा दूध और चाय की पत्ती वे दे देंगे.

बीजेपी, संघ परिवार और आरएसएस की विचारधारा को देश की सबसे बड़ी गंदगी कहा
ओवैसी कहते हैं कि हिंदुस्तान बहुत साफ है. बहुत पाक और सबसे अच्छा है. स्वच्छता अभियान पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि देश में स्वच्छता अभियान चलाने की जरुरत नहीं है. वे कहते हैं कि अगर कुछ गंदगी साफ करनी है तो वो बीजेपी, संघ परिवार, आरएसएस की विचारधारा है.

नाच न आवे तो आंगन टेढ़ा
ओवैसी नोटबंदी के सवाल पर पीए मोदी पर तंज कसते हैं. वे पीएम मोदी द्वारा खुद के फकीर कहने और पंद्रह लाख के सूट पहनने पर भी तंज कसते हैं. वे कहते हैं कि यह नाच न आने पर आंगन को दोष देने जैसा है. पीएम मोदी ने नोटबंदी को सही से लागू नहीं किया और अब वे गलतबयानी कर रहे हैं.

नगरनिगम चुनाव के लिए मांगे वोट
अकबरुद्दीन ओवैसी पुणे में नगर निगम चुनाव के लिए वोट मांगने तो जरूर आये लेकिन सिर्फ एक समुदाय के लोगों तक ही अपनी बातें सीमित रखी. वे कहते हैं कि अब वह दौर गया कि आपको पूछने वाला कोई नहीं था. हिंदुस्तान के किसी भी शहर, गांव में परेशान भाई उन्हें आवाज दे. वे सबके लिए मौजूद रहेंगे. उनकी पार्टी मजलिस उनके हकों के लिए लड़ेगी. सबके इज्जत-आबरू, शान-शौकत के लिए लड़ेगी.

मुल्क पर सबकी बराबरी का हक होने की बात कही
अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा कि इस मुल्क पर सबका बराबरी का हक है. वे आगे कहते हैं कि यह मुल्क तिलक लगाने वाले और सिर पर टोपी रखने वालों का है. वे वहां मौजूद लोगों से पुणे नगर निगम चुनाव में मजलिस को जीत दिलाने की वायदा लेते हैं. वे कहते हैं कि यहां लहराता हरा झंडा कितना अच्छा लग रहा है. वे लोगों से हरे झंडे को पूना के बलदिया पर फहराने की बात कहते हैं. वे कहते हैं कि मुसलमानों को किसी से डरने की जरूरत नहीं. वे उनसे सिर्फ पतंग पर वोट डालने की गुजारिश करते हैं. वे वहां मौजूद लोगों से कहते हैं कि उन्हें किसी ठाकरे-फाकरे, मोदी या भागवत, गांधी या पवार से डरने की जरूरत नहीं है. उनके साथ अल्लाह है.

खुद पगड़ी पहनकर मोदी पर कसा तंज
इस मौके पर मजलिसे इत्तेहादुल मुसलमीन पार्टी द्वारा जलसा समारोह के अंत में पुणे मजलिसे इत्तेहादुल मुसलमीन पार्टी के सदस्यों ने ओवैसी को महात्मा ज्योतिबा फुले की पगड़ी पहनाकर सम्मानित किया. पगड़ी पहनने के बाद ओवैसी ने पीएम मोदी पर फिर एक बार निशाना साधते हुए कहा कि वे पगड़ी पहनने के लिए तैयार है, काश कोई उनकी टोपी पहनने के लिए भी तैयार हो जाता.