दतिया पहुँचने पर एकात्म यात्रा का भव्य स्वागत

0

दतिया – ईपत्रकार.कॉम |भारत की सांस्कृतिक धार्मिक एवं अध्यात्मिक एकता के महान दार्शनिक संत, संस्कृत साहित्यकार, अद्वैत वेदांत के प्रणेता, सनातन संस्कृति के पुनरूद्वारक, सांस्कृतिक एकता के देवदूत, ओजस्वी शक्ति प्रदाता ”आदि गुरू शंकराचार्य” के अतुलनीय योगदान के संबंध में जन जागरण करने तथा ओंकारेश्वर में शंकराचार्य जी की प्रतिमा स्थापना के लिए धातु संग्रहण करने हेतु ”एकात्म यात्रा” का आयोजन राज्य शासन द्वारा किया जा रहा है। यह यात्रा सिंकदरा वैरियर से आज दतिया पहुँची। रास्ते में गरेरा के पास मध्यप्रदेश शासन के जल संसाधन, जनसम्पर्क एवं संसदीय कार्य विभाग मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने आदि गुरू की चरण पादूकाओं को सिरोधार कर यात्रा की अगवानी की। इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष श्री विक्रम सिंह बुन्देला, कलेक्टर श्री मदन कुमार, पुलिस अधीक्षक श्री मंयक अवस्थी, यात्रा के संयोजक विधायक सेवढ़ा श्री प्रदीप अग्रवाल, सहसंयोजक श्री प्रमोद पुजारी, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती रजनी प्रजापति, यात्रा के नोडल अधिकारी अपर कलेक्टर श्री आशीष कुमार गुप्ता, एसडीएम दतिया श्री क्षितित सिंघल सहित अन्य अधिकारीगण, जिले के गणमान्यजन व नागरिकजन उपस्थित रहे। यात्रा में संत श्री परमात्मानंद सरस्वती सरस्वती जी महाराज, पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष श्री तपन भौमिक, बाल अधिकार आयोग के अध्यक्ष श्री राघवेन्द्र शर्मा, श्री कबीर पंथी भगवत दास, ब्रम्हाकुमारी निकेता बहिन शामिल रही। इस दौरान जनसम्पर्क मंत्री द्वारा पादूका पूजन कर संतो का आर्शीवाद लिया।

यात्रा दतिया में प्रवेश के उपरांत दतिया शहर पहुँची। मार्ग में उद्गंवा, पलोथरा, डांग करैरा, चौपरा में स्वागत के उपरांत दतिया शहर में प्रवेश किया। दतिया शहर को तोरण द्वारों से सजाया गया था। शहर में ट्राफिक चौकी पुल के पास, सिविल लाईन, राजघाट तिराहा, पीताम्बरा पीठ, गुरूद्वारा, राजगढ़ चौराहा होते हुए यात्रा बग्गीखाना पहुंची। पीताम्बरा पीठ से किला चौक तक संतश्री की बग्गी में बैठालकर शोभायात्रा निकाली गई। बाजार में यात्रा का भव्य स्वागत हुआ।

बग्गीखाना परिसर में आयोजित संवाद स्थल पर पादूका पूजन एवं दीप प्रज्वलन किया गया। कार्यक्रम में उपस्थिजन को संबोधित करते हुए श्री परमात्मानंद सरस्वती ने कहा कि आदि गुरू शंकराचार्य का जन्म साढे बारह सौ वर्ष पूर्व केरल में हुआ था। उन्होंने आठ वर्ष की अवस्था में ही गृह त्याग कर विखंडित हो रहे भारत वर्ष को एक सूत्र में पिरोने का काम किया। वह साक्षात भगवान के रूप थे उन्होंने कहा कि आत्मा एक है जो कि प्रत्येक जीव में विचरण कर रही है यह अद्वैत बात है। उन्होंने दो हजार किलोमीटर पैदल चलकर भारत वर्ष को सांस्कृतिक एकता के सूत्र में पिरोया। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि इस यात्रा के माध्यम से लोगों को एकता, अखण्डता और धर्म के मार्ग पर चलने की प्रेरणा मिलेगी। पीताम्बरा पीठ के गुरू श्री चंद्रमोहन दीक्षित ने कहा कि यथा राजा तथा प्रजा मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान धर्म प्रिय है और उन्होंने प्रजा की आध्यत्मिक भलाई सुख समृद्धि के लिए एकात्म यात्रा का आयोजन किया है। इसका लाभ पूरे प्रदेश की जनता को मिल रहा है। श्री राघवेन्द्र शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश में चार यात्रायें निकाल गई है जो ओंकारेश्वर पहुंचेगी ओंकारेश्वर में आदि गुरू शंकराचार्य की 108 फुट ऊंची प्रतिमा बनेगी जो किसी टाटा बिड़ला की न होकर साढ़े सात करोड़ मध्यप्रदेश की जनता के सहयोग से बनी मूर्ति होगी।

प्रारंभ में यात्रा के संयोजक श्री प्रदीप अग्रवाल ने कहा कि एकात्म यात्रा के माध्यम से हमारी प्राचीन संस्कृति और सभ्यता के उत्थान के लिए और जनता में सांस्कृतिक एकता के भाव पैदा करने के उद्देश्य से आध्यत्मिक लाभ का कदम है। कार्यक्रम के अंत में अपर कलेक्टर श्री आशीष कुमार ने आभार व्यक्त किया। इस दौरान उपस्थितजन को शपथ दिलाई गई। आभार प्रदर्शन अपर कलेक्टर श्री आशीष कुमार गुप्ता द्वारा किया गया। मंच से एकात्म यात्रा की प्रतियोगिताओं के पुरस्कार भी वितरित किए गए। कार्यक्रम में श्री विनोद मिश्र एवं श्री प्रमोद पुरोहित ने भजन व गीत प्रस्तुत किया।

यात्रा भ्रमण में यह रहे उपस्थित
यात्रा अगवानी से संवाद तक जो प्रमुख लोग उपस्थित रहे उनमें सर्वश्री सुभाष अग्रवाल, कमलू चोबे, बलदेव राज बल्लू, विजय झण्डा गुरू, श्रीमती सावित्री सूत्रकार, श्रीमती सुमन दांगी, श्रीमती कुकुम रावत, क्रांति राय, श्रीमती किरण गुप्ता, राजू त्यागी, वीर सिंह यादव, जीतू कमरिया, गौरव दांगी, डॉ. हरेन्द्र कुमार भार्गव, सतीश यादव, डप्टी कलेक्टर वीरेन्द्र कटारे, एसडीओपी आरसी भोज, टीआई अजय भार्गव, पप्पू सिजरिया, गोविन्द ज्ञानानी, लक्ष्मण साहवानी, दीपू सचदेवा, बल्लन गुप्ता, पीओ डूडा श्री शर्मा, सीएमओ नगर पालिका अनिल दुबे सहित अन्यजन उपस्थित रहे।