दिल्ली में प्रदूषण का कहर जारी; जहरीली हवा के बीच खुले स्कूल, 69 ट्रेनें लेट

0

नई दिल्ली: वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर पर पहुंचने के बाद दिल्ली सरकार द्वारा पांच दिनों के अवकाश की घोषणा के बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के सभी विद्यालय आज फिर से खुलेंगे। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और गुरुग्राम ने सोमवार को भी विद्यालय बंद रखने की घोषणा की है। दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘विद्यालय आज से फिर खोले जाएंगे और अवकाशों को अब आगे नहीं बढ़ाया जाएगा।’’ उल्लेखनीय है कि पिछले सप्ताह से दिल्ली में घना धुंध और धुंआ छाया हुआ है, जिससे लोगों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है। इसके बाद दिल्ली सरकार ने यहां के विद्यालयों को बंद करने का आदेश दिया था।

धुंध की वजह से 69 ट्रेनें लेट
यातायात पर भी धुंध असर दिखाई दे रहा है। धुंध के कारण आज करीब 69 ट्रेनें लेट हो इसके अलावा 22 ट्रेनों के समय में बदलाव किया गया है, 8 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है

वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ा
दिल्ली में रविवार से वायु प्रदूषण का स्तर फिर से बढ़ गया जिसके साथ वायु गुणवत्ता खतरनाक हो गई। एजेंसियों के अनुसार यह हवा स्वस्थ लोगों के लिए भी खतरनाक है। प्रदूषण निगरानी संस्था अधिकारियों ने कहा कि सोमवार शाम से कुछ राहत मिल सकती है क्योंकि सतही हवाओं की गति बढेगी। वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान एवं अनुसंधान प्रणाली ने कहा कि 14 नवंबर की शाम को बारिश की संभावना है।

सेंटर कंट्रोल रूम फॉर एयर क्वालिटी मैनेजमेंट के अनुसार शनिवार को कम आपात स्तर से नीचे चले जाने के बाद रविवार दोपहर हवा में पीएम (पार्टिकुलेट मैटर) 2.5 और पीएम10 की सघनता क्रमश: 478 एवं 713 थी। 24 घंटे के लिए इनसे जुड़े सुरक्षित मानक 60 एवं 100 हैं। कई जगहों पर दृश्यता 100 मीटर से कम हो गई।

इस बीच, रोहतक से कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अनुरोध किया कि वह वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए उत्तर भारत के राज्यों के मुख्यमंत्रियों की एक समिति का नेतृत्व करें। लोगों ने अपनी आंखों में जलन और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत की है जिससे स्थिति की गंभीरता का पता चलता है।