नर्मदा तट पर शराब की दुकानें नहीं खुलेंगी

0
103

ई-पत्रकार-मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अगले वित्त वर्ष से नर्मदा तट पर कोई शराब की दुकान नहीं खुलेगी। प्रदेश में नशा मुक्ति का अभियान चलाया जायेगा। नर्मदा तट के सभी शहरों में ट्रीटमेंट प्लांट बनाये जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान होशंगाबाद जिले के ग्राम सांडिया में नर्मदा सेवा यात्रा को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीताशरण शर्मा, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह और जिले के प्रभारी एवं उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा विशेष रूप से उपस्थित थे।

बलात्कारी को फाँसी की सजा देने का कानून बनाया जाये

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि देश विचार करें कि बलात्कारियों को फाँसी की सजा दी जाये। इसके लिये सभी राजनैतिक दल, संत और समाजसेवी पहल करें। इस संबंध में संविधान संशोधन कर कानून बनाया जाये।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लोगों को नर्मदा के संरक्षण का संकल्प दिलाया। उन्होंने नर्मदा तट पर सामूहिक आरती में भाग लिया। इसके पहले उन्होंने नर्मदा-पूजन और कन्या-पूजन किया। साथ ही नर्मदा तट पर वृक्षारोपण किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि ‘नमामि देवी नर्मदे’- सेवा यात्रा नदी संरक्षण और पर्यावरण बचाने का सबसे बड़ा अभियान है। इसमें समाज का हर वर्ग भागीदारी करे और इसे जनआंदोलन बनायें। नदी और जल के बिना जीवन संभव नहीं है। नर्मदा नदी ने मध्यप्रदेश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। नर्मदा के जल से सिंचाई और बिजली मिली है। नर्मदा के दोनों तट के जंगलों से पेड़ कटने से नुकसान हुआ है। यही स्थिति रही तो आने वाले 50 वर्ष में पानी देखने को नहीं मिलेगा। इस अभियान में नर्मदा के दोनों तट पर पेड़ लगाने का अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि नर्मदा के दोनो तटों पर पेड़ लगायें और नर्मदा तट के गाँवों के हर घर में शौचालय बनवायें। पूजन के नाम पर नर्मदा नदी में फूल, नारियल,तेल आदि सामग्री नहीं डालें। नर्मदा नदी में मूर्तियाँ विसर्जित नहीं करें और नर्मदा किनारे के ग्रामों को नशा मुक्त बनायें। उन्होंने कहा कि बेटे –बेटियों में भेदभाव नहीं करें। हर बच्चे को स्कूल भेजें। नर्मदा नदी के किनारों पर अवैध उत्खनन रोकने के लिये सख्त कार्रवाई की जायेगी।

कार्यक्रम को सांसद श्री उदयप्रताप सिंह और साध्वी प्रज्ञा भारती ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में राज्य खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे, विधायक श्री ठाकुर दास नागवंशी, जन-अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री प्रदीप पांडे, साध्वी योगमाया तीर्थ, महंत श्री बालकदास सहित संतगण, जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।