बालिकाएं अपने साथ घटित होने वाली घटनाओं को शेयर करे-भारती अवास्या

0

बड़वानी – ईपत्रकार.कॉम |बालिकाएं अपने साथ होने वाली किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ या किसी के द्वारा परेशान करने वाली घटनाओ या अन्य किसी भी घटना के बारे में अपने परिवार या अपने शिक्षको को बताये। बालिकाएं डरे व सहमे नही बल्कि हिम्मत से अपने साथ घटित होने वाली घटनाओ के बारे में अपने परिजनो व शिक्षको को बताये। जिससे वे आपकी समस्याओ का निराकरण कर सके। अगर आपके माता-पिता आपको कोई बात समझाये तो आप उसे ये ना समझे कि वे आपके साथ रोक टोक कर रहे है, बल्कि वे अपने अनुभव के आधार पर आपको सही गलत की परख कराते है।

उक्त बाते जिला महिला सशिक्तकरण अधिकारी श्रीमती भारती अवास्या ने शुक्रवार को रुक्मणी एकेडमी बड़वानी में आयोजित बालिका सशक्तिकरण शिविर के दौरान कही। शिविर में श्रीमती अवास्या ने बालिकाओ को बताया कि अगर बालिकाओ के साथ किसी प्रकार की कोई अनैतिक घटना हो व चाहे उनके परिवार का कोई सदस्य उनके साथ करे या समाज का कोई व्यक्ति करे, बालिकाएं इसकी जानकारी अपने माता-पिता को अवश्य दे। क्योकि अगर आप एक बार चुप रहकर उस व्यक्ति की गलत हरकत को सहन करेगी तो वो आपके साथ बार-बार इस प्रकार की गलत हरकत करेगा और इसका प्रभाव आपकी पढ़ाई, आपके व्यक्तित्व पर भी पडे़गा। शिविर में श्रीमती अवास्या ने पाक्सो एक्ट की जानकारी देते हुए बताया कि इस एक्ट में किस प्रकार 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चे अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते है एवं सजा के क्या प्रावधान है के बारे में बताया। साथ ही उन्होने चाईल्ड हेल्पलाईन नम्बर 1098 के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि बच्चे इस नम्बर पर भी शिकायत दर्ज करा सकते है। शिविर के अंत में श्रीमती अवास्या ने बालिकाओ के प्रश्नो एवं जिज्ञासाओ का भी समाधान किया।

शिविर में संस्था प्राचार्य श्री॰ प्रशान्त पी॰ नायर जी ने भी छात्राओं का मार्गदर्शन करते हुए बताया कि छात्राओं को अपने विचारों का आदान-प्रदान अपने माता-पिता के साथ करना चाहिए। इस अवसर पर कु॰ योगिता मुकाती, ब्लॉक महिला सशक्तिकरण अधिकारी एवं श्रीमती अनिता चोयल, पैरालिगल वॉलेन्टियर भी उपस्थित थे।