राजस्व न्यायालयों के लिपिक अपनी व्यवस्थाओं में करें सुधार, अन्यथा होगी सख्त कार्यवाही-कलेक्टर

0

शहडोल – ईपत्रकार.कॉम |कलेक्टर श्री नरेश पाल ने जिले के सभी राजस्व न्यायालयों के लिपिकों को निर्देशित किया है कि वे अपनी व्यवस्थाओं में सुधार करें। किसानों के साथ अच्छा व्यवहार करें तथा किसानों का काम समय सीमा में करना सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने कहा है कि स्थिति में सुधार नहीं होने पर संबंधित राजस्व न्यायालय के लिपिकों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी। कलेक्टर ने कहा है कि कलेक्टर कार्यालय की वरिष्ठ लिपिक शाखा, नकल शाखा के कार्यों में काफी सुधार आया है जिसमें और अधिक सुधार करने की आवश्यकता है।

कलेक्टर ने निर्देश दिये हैं कि राजस्व विभाग के लिपिकों को जिला स्तर पर विशेष प्रशिक्षण दिया जायेगा ताकि राजस्व न्यायालयों के माध्यम से किसानों के राजस्व प्रकरणों का त्वरित निराकरण किया जा सके। कलेक्टर ने उक्त निर्देश आज कलेक्टर कार्यालय के लिपिकों की विशेष बैठक में दिये। कलेक्टर ने निर्देशित करते हुये कहा कि कलेक्टर कार्यालय शहडोल सहित जिले के सभी राजस्व न्यायालयों की स्थिति 31 जनवरी 2018 तक हर हाल सुधरना चाहिए। कलेक्टर ने लिपिकों को निर्देश दिये हैं कि वे पुराने प्रकरणों को देखें तथा पुराने प्रकरणों का निराकरण भी करायें।

बैठक में संयुक्त कलेक्टर श्री रमेश सिंह ने कलेक्टर को आश्वस्त किया कि कलेक्टर कार्यालय की विभिन्न शाखाओं में कार्य संस्कृति का विकास हुआ है, इसमें और सुधार लाने की आवश्यकता है, जिसके निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। बैठक में अपर कलेक्टर श्री सरोधन सिंह एवं अन्य विभागों के लिपिक भी उपस्थित थे।