राज्य बीमारी सहायता निधि और राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत निजी अस्पतालों में होगा उपचार

0

जबलपुर  – ईपत्रकार.कॉम |सेठ गोविंददास जिला चिकित्सालय (विक्टोरिया अस्पताल) में आज रविवार को आयोजित मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सेवा शिविर में राज्य बीमारी सहायता निधि और राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत उपचार हेतु 404 मरीजों को चिन्हित किया गया है। इन मरीजों का उपचार निजी अस्पतालों में किया जायेगा तथा आवश्यकता पड़ने पर सर्जरी भी होगी।

जिला स्तर पर आयोजित किये गये मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सेवा शिविर का शुभारंभ महापौर डॉ. श्रीमती स्वाति गोडबोले ने विधायक श्री अंचल सोनकर की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में किया। कलेक्टर महेश चन्द्र चौधरी ने भी शिविर की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया एवं स्वास्थ्य परीक्षण कराने आये मरीजों से चर्चा कर शिविर में उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी ली।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मुरली अग्रवाल के अनुसार मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सेवा शिविर में जन्मजात ह्मदयरोग के 71, श्रवण बाधिता के 78 तथा कटे-फटे होंठ-तालु के 2, क्लब फुट के 26, जन्मजात मोतियाबिंद-भैंगापन के 30, न्यूरो के 4 तथा अन्य चिन्हित बीमारियों के 193 मरीजों जिनमें बच्चे, वयस्क एवं बुजुर्ग शामिल थे का नि:शुल्क जांच एवं उपचार किया गया।

मुख्य चिकित्सा धिकारी के मुताबिक शिविर में आये इन मरीजों में से 90 मरीजों को राज्य बीमारी सहायता निधि के अंतर्गत तथा 314 मरीजों को राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत नि:शुल्क उपचार हेतु पात्र पाया गया तथा इनके प्रकरण तैयार कर मान्यता प्राप्त अस्पतालों में उपचार हेतु भेजा गया।

डॉ.अग्रवाल ने बताया कि मुख्यमंत्री स्वास्थ्य शिविर में नागपुर के प्लेटिना हॉस्पिटल नागपुर एवं जबलपुर के जामदार हॉस्पिटल, शैल्वी हॉस्पिटल, सिटी हॉस्पिटल, मेट्रो हॉस्पिटल, जनज्योति नेत्र चिकित्सालय के विशेषज्ञ चिकित्सकों ने मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। जिला चिकित्सालय विक्टोरिया एवं मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों द्वारा भी जांच एवं उपचार प्रदान किया गया।