रिलायंस जियो ने दिया Idea को झटका

0
262

नई दिल्ली.रिलायंस जियो ने आइडिया को तगड़ा झटका दिया है। दिसंबर, 2016 में समाप्त क्वार्टर के दौरान आइडिया को 384 करोड़ रुपए का नेट कंसॉलिडेटेड लॉस हुआ, जबकि बीते साल समान क्वार्टर में कंपनी को 659 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ था।

रेवेन्यु में भी गिरावट, एक्सपेंडिचर बढ़ा
चालू फाइनेंशियल ईयर के तीसरे क्वार्टर के दौरान आइडिया के रेवेन्यू में भी खासी गिरावट दर्ज की गई, जो 8663 करो़ड़ रुपए रह गया। वहीं दिसंबर, 2015 में समाप्त क्वार्टर के दौरान 9300 करोड़ रुपए रहा था।
इस क्वार्टर के दौरान कंपनी का एक्सपेंडिचर बढ़कर 8463 करोड़ रुपए हो गया, जबकि दिसंबर, 2015 में समाप्त क्वार्टर के दौरान यह 8414 करोड़ रुपए रहा था।

10.6फीसदी घटाए वॉयस रेट
रिलायंस जियो की लॉन्चिंग के बाद आइडिया बड़े स्तर पर अपने रेट घटाने को मजबूर हुई है। दिसंबर, 2016 में समाप्त क्वार्टर के दौरान कंपनी ने अपने वॉयस रेट 10.6 फीसदी घटाकर 29.6 पैसे प्रति मिनट कर दिए, जबकि सितंबर, 2016 में समाप्त क्वार्टर के दौरान यह 33.1 पैसे प्रति मिनट के स्तर पर थे।
वॉयस रेट्स में कमी के बावजूद वॉल्यूम में बढ़ोत्तरी सामान्य से कम रही। इस क्वार्टर के दौरान वॉयस मिनट्स 7.3 फीसदी बढ़कर 210 अरब मिनट हो गए, जबकि सितंबर, 2016 में समाप्त क्वार्टर के दौरान यह 195.5 अरब मिनट रहे थे।

आइडिया के मोबाइल डाटा सब्सक्राइबर्स में55लाख की कमी
आइडिया ने रिलायंस जियो का नाम लिए बिना माना कि फ्री प्रमोशंस का उसके मोबाइल डाटा बिजनेस पर खासा असर पड़ा है। क्वार्टर आधार पर पहली बार उसके मोबाइल डाटा सब्सक्राइबर्स (2जी, 3जी और 4जी) की संख्या में 55 लाख की कमी आई। दिसंबर, 2016 में समाप्त क्वार्टर के दौरान उसके सब्सक्राइबर्स की संख्या घटकर 4.86 करोड़ रह गई, जबकि इससे पिछले क्वार्टर में यह आंकड़ा 5.41 करोड़ रहा था।