सभी छात्रावासों में छात्रों को उच्च गुणवत्तापूर्ण भोजन मुहैया करायें – कमिश्नर

0

शहडोल  – ईपत्रकार.कॉम |कमिश्नर शहडोल संभाग श्री रजनीश श्रीवास्तव ने शहडोल संभाग के सभी शासकीय आवासीय छात्रावासों के विद्यार्थियों को उच्च गुणवत्तापूर्ण भोजन सामग्री एवं चाय, नाश्ते आदि की सुविधा मुहैया कराने के निर्देश आदिम जाति कल्याण विभाग के अधिकारियों को दिये हैं। कमिश्नर ने निर्देशित करते हुये कहा है कि अनुसूचित जाति एवं जनजाति विभाग द्वारा संचालित सभी छात्रावासों, आश्रमों में छात्र-छात्राओं को उच्च गुणवत्तापूर्ण भोजन सामग्री मिलना चाहिए, बच्चों के सोने के लिये अच्छे बेडिंग और अच्छे बिस्तर भी होना चाहिए।

कमिश्नर ने निर्देश दिये हैं कि छात्रावासी छात्र-छात्राओं के अध्ययन कक्ष एवं शयनकक्ष में समुचित रोशनी होनी चाहिए तथा सभी शयन कक्षों एवं अध्ययन कक्षों में पर्याप्त हवा एवं रोशनी की व्यवस्था होना चाहिए। कमिश्नर ने निर्देश दिये हैं कि शहडोल संभाग के सभी छात्रावासों में शौचालयों की समुचित साफ-सफाई एवं पानी की टंकी की समुचित साफ-सफाई के लिये आज से ही अभियान चलाया जायेगा। कमिश्नर ने निर्देश दिये कि इस अभियान के तहत शहडोल संभाग के सभी आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा संचालित आवासीय छात्रावासों की टंकियों की सफाई की जायेगी तथा टंकियों में क्लोरीन की टेबलेट भी डाली जायेगी। कमिश्नर ने निर्देश दिये हैं कि शहडोल संभाग के सभी छात्रावास स्वच्छ एवं सुंदर होना चाहिए, छात्रावासी छात्र-छात्राओं को छात्रावास प्रबंधन द्वारा बेहतर से बेहतर सुविधाएं मुहैया होना चाहिए। कमिश्नर ने निर्देशित करते हुये कहा है कि वे शीघ्र ही शहडोल संभाग के छात्रावासों का निरीक्षण करेंगें। निरीक्षण के दौरान अगर छात्रावासों में किसी भी प्रकार की अनियमितताएं पाई जाती है तो संबंधित अधिकारियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करेंगें।

कमिश्नर ने उक्त निर्देश आज विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में आदिम जाति कल्याण विभाग के अधिकारियों को दिये। समीक्षा के दौरान कमिश्नर ने निर्देश दिये कि संभाग एवं जिला स्तरीय अधिकारी छात्रावासों का आकस्मिक निरीक्षण करें तथा छात्रावासों में छात्र-छात्राओं को दी जा रही सुविधाओं की मॉनीटरिंग करें। कमिश्नर ने यह भी निर्देश दिये कि छात्रावासी छात्र-छात्राओं को बेहतर से बेहतर अध्ययन सुविधाएं एवं कोचिंग आदि की भी सुविधाएं मुहैया करायें। कमिश्नर ने निर्देशित करते हुये कहा कि शहडोल संभाग के सभी छात्रावासों में रोशनी की विशेष व्यवस्थाएं करें तथा छात्र-छात्राओं के शयनकक्ष में कम से कम 5 ट्यूब लाईट लगायें। कमिश्नर ने यह भी निर्देश दिये कि छात्रावासी छात्र-छात्राओं के बेडिंग साफ और स्वच्छ होना चाहिए।

समीक्षा के दौरान उपायुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग ने बताया कि शहडोल संभाग में 139 छात्रावास संचालित है, जिनका समय समय पर निरीक्षण किया जा रहा है। उन्होने बताया कि निरीक्षण के लिये जिला स्तर पर दल गठित किया गया है। बैठक में मुख्य वन सरंक्षक श्री प्रशांत जाधव, उपायुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग श्री जगदीश सरवटे, संयुक्त संचालक शिक्षा श्री एम.के.पांडवा, उप संचालक पशु चिकित्सा डॉ.जीतेंद्र सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.राजेश पाण्डेय, उप संचालक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य डॉ.ए.पी.द्विवेदी, उप संचालक कृषि श्री जे.एस.पेन्द्राम एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।