सिर्फ इन 4 कारणों से होती है सास-बहू में कलह!

0

सास और बहू के रिश्ते की डोर बहुत ही नाजुक होती है। बहुत कम घर होते हैं जहां सास और बहू के बीच में हेल्थी रिलेशन होते हैं। कई लोगों का मानना है कि महिलाएं रिश्ता जुड़ने से पहले ही अपनी सास या बहु से मन ही मन बैर करने लगती हैं। उन्हें लगता है कि ऐसे रिश्तों में सिर्फ लड़ाई और नफरत ही हो सकते हैं। हालांकि सबको लगता है कि वे ठीक हैं और सामने वाले में कमी है। इसलिए आज हम आपको ऐसे 4 कारण बता रहे हैं जिनकी वजह से अक्सर सास और बहु के रिश्ते में खटास रहती है।

बेटा नहीं सुनता
हर मां अपने बेटे की शादी के वक्त बहुत खुश होती है। जब उसकी बहु पहली बार घर में पैर रखती है तो उसे गर्व महसूस होता है। लेकिन कुछ ​ही दिनों में ऐसा क्या हो जाता है कि सास और बहु के रिश्ते खराब हो जाते हैं? तो इसका सीधा सा कारण है बेटा। अक्सर मां को लगता है कि शादी के बाद उनका बेटा बदल गया है और अब वह सिर्फ अपनी बीवी और उसके घर के बारे में सोच रहा है। जिसके चलते सास सिर्फ अपनी मानसिकता के हिसाब से बहु और बेटे को ताने मरना और बात बनाना शुरू कर देती है। ​ऐसे में जब बहु के साथ बेटा अपनी मां को जबाव देता है तो रिश्तों को चित्थड़े उड़ जाते हैं।

घर का काम करने में
आज के समय में 80 प्रतिशत लड़कियां वर्किंग हैं और शादी के बाद भी वो इसे कन्टीन्यू रखती हैं। शादी के बाद शुरू—शुरू में तो इसका आपकी जिंदगी पर कोई फर्क नहीं पड़ता। लेकिन अगर आप आॅफिस जाते वक्त या घर जाते किचन में सास की मदद नहीं कर रही हैं तो इसका भारी खामियाजा भुगतना पड़ता है। घर में ननद या जेठानी हैं तो स्थिति और भी बेकार हो जाती है। इन्हें आपके खिलाफ सास के कान भरने में समय नहीं लगता है। फिर जब सास, बहु से इस बारे में बात करती है और बहु अपना बिजी सड्यूल बताती है तो दोनों के बीच में मनमुटाव शुरू हो जाता है।

दूसरों से तुलना करना
वो कहते हैं हर चीज का फायदा भी है और नुकसान भी। इसी तरह से वर्किंग महिलाएं अक्सर आॅफिस में अपने ससुराल खास तौर से सास की दूसरों से तुलना करती हैं। और उसे लगता है कि तमाम कोशिशों के बावजूद उन्हें घर से सही रेस्पांस नहीं मिल रहा है तो वो इसकी फ्स्ट्रेशन घर के सदस्यों पर निकालती है। ठीक इसी तरह सास भी जब औरों की बहुओं में ज्यादा गुण देखती है तो घर आकर अप्रत्यक्ष रूप से अपनी बहू और बेटे को ताना मारती है।​ जिससे बहु बौखला जाती है और पलट कर तुरंत जवाब देती है।

अक्सर मायके जाना
सास चाहे अपनी बहु से कितना भी प्यार करती हो लेकिन उसे बहु का बार—बार मायके जाना बिल्कुल पसंद नहीं होता। हालांकि शुरू—शुरू में सास इस बात पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देती है लेकिन जब ये चीजें बार बार होती हैं तो भले ही सास अपनी बहु से सीधा ये ना बोलें लेकिन आप नोट करना उनकी बातों में खटास जरूर रहती है।