अगर आप भी बनना चाहते हैं धनवान तो कार्तिक पूर्णिमा के दिन जरूर करें ये काम

0

हिंदू धर्म में कार्तिक पूर्णिमा का बहुत अधिक महत्व होता है। इस दिन कार्तिक महीने का अंतिम दिन होता है। यह पर्व कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को आता है। इस दिन लोग पवित्र नदी पर स्नान, दीपदान, भगवान की पूजा, आरती, हवन तथा दान का करते हैं। ऐसा करने के पीछे मान्यता है कि जो लोग ऐसा करते हैं वे भगवान श्रीहरि की कृपा के पात्र बनते हैं।

इसी के साथ ही ऐसी मान्यता भी है कि यदि कोई गंगा स्नान करता है तो उसे विशेष फलों की प्राप्ति होती है। शास्त्रों में पूर्णिमा पर माता लक्ष्मी जी की पूजा का भी विधान होता है। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं आपको कुछ ऐसे उपायों के बारे में जिसे करने से आपके घर से कभी लक्ष्मी नहीं जाएगी।

  • सबसे पहले तो इस बात का ध्यान रखें कि इस दिन आप अपने घर को गंदा बिल्‍कुल न छोड़ें और साफ-सफाई जरूर करें। ऐसा करने से घर में लक्ष्‍मी जी का आगमन होता है। अपने घर के द्वार को भी सजाएं।
  • घर के द्वार के सामने स्वास्तिक बनाएं तथा विष्णु भगवान व मां लक्ष्मी की पूजा करें।
  • कार्तिक पूर्णिमा पर चांद जरूर देखें और साथ ही उसे मिश्री व खीर का भोग चढ़ाएं।
  • इस दिन दीपदान व गो दान का फल अनंत पुण्यदायी है। इससे घर की सभी परेशानियां दूर होती हैं और सुख का वास होता है। यदि आप किसी कारण नदी में दीपदान नहीं कर सकते तो इस दिन किसी पास के मंदिर में जाकर दीप-दान करें।
  • चावल, शकर और दूध का दान या बहुत थोड़ी मात्रा में नदी में इन्हें बहाने से भी अक्षय पुण्य फल मिलता है।