अब 15 फरवरी तक दें नोटबंदी के दौरान जमा की गई राशि की जानकारी

0

सरकार ने नोटबंदी के बाद बैंकों में जमा कराई गई नकद राशि को लेकर करदाताओं से आयकर विभाग के SMS और ईमेल का जवाब देने की अंतिम तिथि पांच दिन बढ़ाकर 15 फरवरी कर दी है। आयकर विभाग ने ट्वीट किया, ‘नकद जमा आंकड़ों पर ऑनलाइन जवाब देने की तारीख बढ़ा दी गई है। स्वच्छ धन अभियान के तहत अब आप अपना ब्योरा 15 फरवरी, 2017 तक दे सकते हैं।

इसके अलावा, आयकर विभाग द्वारा लोगों से यह भी कहा गया है कि नोटबंदी के बाद अगर उन्हें किसी व्यक्ति से 20,000 रुपये या उससे अधिक का उपहार या दान मिला है तो उसका ब्योरा उपलब्ध कराएं ताकि आगे उनकी जांच नहीं की संभावना कम हो।

SMS और ईमेल पर जवाब को लेकर बार-बार पूछे जाने वाले सवालों का स्पष्टीकरण (FAQ) जारी करते हुए आयकर विभाग ने कहा है कि आयकर दाताओं को उपहार या दान में मिले कैश के स्रोत का स्पष्टीकरण देना होगा। अगर यह कैश जमा कई स्रोतों या 8 नवंबर को हाथ में कैश की वजह से है तो आयकरदाता को ई फाइलिंग पोर्टल पर जवाब देते समय बैंक से निकाले गए कैश, पहचान वाले लोगों या बिना पैन के मिले कैश, अज्ञात लोगों से मिली नकदी और पहले की आय या बचत किए गए कैश की अलग-अलग जानकारी देनी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here