कोरोना की रोकथाम के लिये हर संभव प्रबंध किए जाएं

0

नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये हर संभव उपाए किए जाएं। शासकीय प्रयासों के साथ-साथ समाज के विभिन्न वर्गों का भी इसमें सहयोग लिया जाए। आम जनों को भी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिये दिए गए निर्देशों और प्रतिबंधात्मक आदेशों का अक्षरश: पालन करना चाहिए। इस कठिन घड़ी में सभी के सहयोग और आम जनों के संयम की नितांत आवश्यकता है।

क्षेत्रीय सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने गुरूवार की शाम मोतीमहल स्थित कंट्रोल कमाण्ड सेंटर में जिले के वरिष्ठ अधिकारियों से कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिये किए जा रहे प्रबंधनों के संबंध में चर्चा करते हुए यह बात कही। सांसद श्री शेजवलकर ने अपनी ओर से अपना एक माह का वेतन एक लाख रूपए की राशि का चैक भी संभागीय आयुक्त श्री एम बी ओझा को भेंट किया। बैठक में संभागीय आयुक्त श्री एम बी ओझा, कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री नवनीत भसीन, सीईओ स्मार्ट सिटी श्री महिप तेजस्वी, सीएमएचओ श्री एस के वर्मा सहित शहर के प्रतिष्ठित चिकित्सक डॉ. ओ एन कॉल, डॉ. मुजुमदार, डॉ. भसीन, डॉ. श्रीमती भसीन सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

सांसद श्री शेजवलकर ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये जिले में किए जा रहे प्रयासों को और प्रभावी करने के साथ ही आम जनों को इससे बचाव हेतु जन जागृ‍ति का कार्य भी किया जाना चाहिए। अधिक से अधिक लोगों की जांच का कार्य भी किया जाना चाहिए। आपात स्थिति से निपटने के लिये भी जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग के साथ अपनी पूरी तैयारी रखे। शहर के ऐसे लोग जिन्हें खाने की दिक्कत है, उन्हें फूड पैकेट सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से उपलब्ध हों ऐसा भी प्रबंध किया जाना चाहिए।

संभागीय आयुक्त श्री एम बी ओझा ने बताया कि ग्वालियर जिले के साथ ही संभाग के सभी जिलों में भी कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम हेतु प्रभावी कदम उठाए गए हैं। सभी जगह पर्याप्त प्रबंध किए गए हैं। इसके साथ ही आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता भी लोगों को हो यह भी सुनिश्चित किया गया है। सभी विभागों के समन्वित प्रयास से हर संभव प्रयास और जन जागृति का कार्य किया जा रहा है।

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जिले में किए गए प्रबंधों के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य की दृष्टि से सभी आवश्यक प्रबंध किए गए हैं। जिले में 25 जोन स्तर पर इंसीडेंट कमाण्डर बनाकर व्यवस्थाओं का विकेन्द्रीयकरण किया गया है। यह सभी कमाण्डर अपने-अपने क्षेत्र में सभी प्रकार के प्रबंध करेंगे। ग्वालियर में नवाचार करते हुए वॉट्सएप के माध्यम से भी लोगों को चिकित्सकों के माध्यम से स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध कराई जा रही हैं। निजी चिकित्सकों से भी अपने क्लीनिक खोलकर सहयोग करने का आग्रह किया गया है। सरकारी स्तर पर सर्दी, खांसी, जुकाम एवं बुखार के लिये 24 घंटे ओपीडी चालू रखी गई है।

पुलिस अधीक्षक श्री नवनीत भसीन ने भी इस मौके पर पुलिस विभाग की ओर से किए गए प्रबंधनों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी।