कोहली के पास रहनी चाहिए तीनों फॉर्मेट्स की कप्तानी- लक्ष्मण

0

भारत के पूर्व बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण का मानना है कि विराट कोहली को सभी फॉर्मेट्स में भारत का कप्तान बने रहना चाहिए। विराट कोहली की गैर मौजूदगी में भारत ने अंजिक्य रहाणे की अगुवाई में ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीती थी। इसके बाद अलग-अलग फॉर्मेट्स में अलग-अलग कप्तान की बात उठी थी। भारत के इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतने के बाद भले ही ऐसी आवाजें उठनी कम हो गई हों, लेकि अभी भी कुछ लोगों का मानना है कि भारत को अलग-अलग फॉर्मेटों में अलग-अलग कप्तानों को आजमाना चाहिए। लेकिन लक्ष्मण की राय इनसे अलग है।

लक्ष्मण का कहना है कि कोहली एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जो हर फॉर्मेट में प्रदर्शन करते हैं। ऐसे में भारत के लिए अलग-अलग फॉर्मेट के लिए अलग-अलग कप्तानी की चर्चा को कोई मतलब नहीं है। उन्होंने आगे कहा, ” मैंने हमेशा महसूस किया है कि जब तक आपके कप्तान पर कप्तानी का बोझ नहीं है और वो अपने प्रदर्शन में समझौते किए बिना इस जिम्मेदारी का आनंद लेता है, इस मामले में विराट की बैटिंग के साथ साथ ऐसा ही है। उन्हें हर फॉर्मेट में भारत का कप्तान बनाए रखना चाहिए, अगर वो तीनों फॉर्मटों में उपलब्ध हैं”।

उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के मामला अलग है, इसलिए उनके कप्तान अलग हैं। जो रूट व्हाइट बॉल से खेले जाने वाले फॉर्मेट में रेगुलर नहीं हैं या फिर इयान मोर्गन टेस्ट खिलाड़ी नहीं है। अगर कोई कप्तान तीनों फॉर्मेट का खिलाड़ी है और एक परफॉर्मर है तो उसे कप्तान होना चाहिए। इस बहस या चर्चा का कोई मतलब नहीं है। ये कोहली हैं, जिन्होने टीम को बनाया है। उनकी पॉजिटिव सोच , उनके काम के एथिक्स ने भारतीय टीम को प्रेरित किया है। इस वजह से भारतीय खिलाड़ियों की एक पूरी पीढ़ी गेम के बारे में काफी प्रोफेशनल हो गई है। उन्होंने कहा कि विराट की किस्मत बहुत अच्छी है कि उनके पास रहाणे, चेतेश्वर पुजारा, रोहित शर्मा, अश्विन, और ईशांत और बुमराह जैसे सीनियर खिलाड़ी टीम में हैं। इन सबने मिलकर कोर ग्रुप बनाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here