तेल और गैस के बुनियादी ढांचे के निर्माण पर 5 साल में खर्च करेंगे 7.5 लाख करोड़-पीएम मोदी

0

तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में कई बड़ी परियोजनाओं और योजनाओं की शुरुआत हो चुकी है. रामनाथपुरम-थुथुकुडी प्राकृतिक गैस पाइपलाइन राष्ट्र को समर्पित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पांच सालों में तेल और गैस के बुनियादी ढांचे के निर्माण में 7.5 लाख करोड़ रुपये खर्च करने की योजना है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत ऊर्जा की बढ़ती मांग की पूर्ति के लिए काम कर रहा है. भारत ऊर्जा आयात पर निर्भरता को भी कम कर रहा है. हम अपने आयात स्रोतों में विविधता ला रहे हैं. इस बीच प्रधानमंत्री मोदी ने आज बुधवार को राज्य में रामनाथपुरम-थुथुकुडी प्राकृतिक गैस पाइपलाइन राष्ट्र को समर्पित की.

27 देशों में 2 लाख करोड़ का निवेशः पीएम मोदी
उन्होंने कहा कि 2019-20 में हम रिफाइनिंग कैपेसिटी में दुनिया में चौथे स्थान पर थे. 65.2 मिलियन टन के करीब पेट्रोलियम प्रोडक्ट का निर्यात किया गया. आज भारत की गैस एवं तेल कंपनियां 27 देशों में काम कर रही हैं, जिनमें 2 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया गया है.

पीएम मोदी ने कहा कि हमने पांच सालों में तेल और गैस के बुनियादी ढांचे के निर्माण में 7.5 लाख करोड़ रुपये खर्च करने की योजना बनाई है. देश के 470 जिलों को कवर करके शहर के गैस वितरण नेटवर्क के विस्तार पर जोर दिया गया है. उन्होंने कहा कि हमारी उपभोक्ता केंद्रित योजनाएं जैसे कि पहल और प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना हर भारतीय परिवार की मदद कर रही है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि इंडियन ऑयल की 143 किलोमीटर लंबी नेचुरल गैस पाइपलाइन रामनाथपुरम से थुथुकुडी तक लॉन्च की जा रही है, जो आज ओएनजीसी के गैस क्षेत्रों से गैस का मोनेटाइज करेगी. उन्होंने कहा कि यह 4,500 करोड़ रुपये की लागत से विकसित होने वाली एक बड़ी प्राकृतिक गैस पाइपलाइन परियोजना का हिस्सा है. यह दक्षिण भारत के कई क्षेत्रों को लाभान्वित करेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here