जानिए कैसे,TV देखने से भी मोटे हो सकते है छोटे बच्चे

0

वर्तमान समय में मोटापा एक गंभीर समस्या बनता जा रहा है। यह किसी भी उम्र में हो सकता है। मोटापा कम करने के लिए लोग कई तरह के प्रयोग करते है। तो वही विश्व स्वाज्ञस्थ्य संगठन के अनुसार एक साल से कम उम्र के बच्चों को इलेक्ट्रॉनिक स्क्रीन से बिल्कुल भी परिचित नहीं होना चाहिए। इसके अलावा पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए स्क्रीन देखने का समय एक दिन में एक घंटे से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

दरअसल, इन ​दिशानिर्देशों को WHO ने वैश्विक मोटापे की संमस्या से निपटने के लिए एक अभियान के तहत जारी किए है। जिसमें यह सुनिश्चित किया गया है कि छोटे बच्चे फिट रहें और उनका जो विकास है वह अच्छी तरह से हो सके। क्योंकि बच्चे के शुरूआती पांच साल में जो विकास होता है वह महत्वपूर्ण होता है। जिस दौरान बच्चों के विकास का आजीवन उसके स्वास्थ्य पर प्रभाव रहता है।

गौरतलब है कि WHO ने पहली बार पांच साल से छोटे बच्चों के लिए इस प्रकार के दिशानिर्देंश जारी किए है। ​इन दिशा निर्देश में कहा गया है कि विश्व भर में करीब 4 करोड बच्चों का वजन सामान्य से अधिक है। जो कि कुल लगभग छह प्रतिशत है। इनमें से आधे अ​फ्रीका के और एशिया के है।

WHO ने बताया कि पांच साल से कम उम्र के बच्चों को स्क्रीन देखने में बहुत कम समय बिताना चाहिए। इसके अलावा उनकों सीट पर एक जगह ज्यादा समय तक नहीं बैठे रहना चाहिए। तो वहीं अच्छे स्वास्थ्य के लिए पूरी नींद लेनी चाहिए और खेलकूद में भी भाग लेना चाहिए।