कोरोना की रोकथाम एवं उपचार सर्वोच्च प्राथमिकता : मुख्यमंत्री श्री चौहान

0

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना की रोकथाम एवं उपचार सर्वोच्च प्राथमिकता है। सभी ज़िले क्राइसिस मेनेजमेंट ग्रुप की बैठकें कर जिलावार रणनीति बनाएँ। हमें हर हालत में कोरोना का संक्रमण रोकना है और जिन जिलों में संक्रमण नहीं है या कम है वहाँ संक्रमण नहीं फैलने देना है। विदिशा, उज्जैन, ग्वालियर, नरसिंहपुर तथा सौंसर में भी रविवार को लॉक डाउन रहेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान और अपर मुख्य सचिव गृह श्री राजेश राजौरा उपस्थित थे।

एक सप्ताह में दोगुने हुए प्रकरण
प्रदेश में गत एक सप्ताह में कोरोना के प्रकरण दोगुने हो गए हैं। एक्टिव प्रकरण 11 हजार 168 हैं। कोरोना की गत एक सप्ताह की औसत पॉजिटिविटी दर 6.3 प्रतिशत है, जो देश की साप्ताहिक औसत दर 4.6 से अधिक है।

इंदौर में सबसे ज़्यादा 612 प्रकरण
कोरोना की जिलेवार समीक्षा में बताया गया कि सर्वाधिक नए प्रकरण इंदौर में 612 हैं। भोपाल में 425, जबलपुर में 156, उज्जैन में 83, रतलाम में 65, ग्वालियर में 63, खरगोन में 60, बैतूल में 54, सागर में 44, बड़वानी में 37, छिंदवाड़ा में 35, नरसिंहपुर 33, शहडोल में 27, बालाघाट में 26 और शाजापुर में 22 नए प्रकरण हैं। शेष ज़िलों में 20 से कम प्रकरण हैं।

अस्पतालों में पूरी तैयारी रखें
कोरोना के अधिकांश मरीज़ होम आइसोलेशन में हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सभी जिलों में अस्पतालों में कोरोना के उपचार की श्रेष्ठतम व्यवस्था रखें। आवश्यकता होने पर होम आइसोलेशन से अस्पताल ले जाने की तुरंत व्यवस्था हो।

कोरोना से निबटने की तिहरी रणनीति
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए हम तिहरी रणनीति अपना रहे हैं। पहला संक्रमण रोकने के सभी उपाय करना, दूसरा अस्पतालों में कोरोना के उपचार की श्रेष्ठतम व्यवस्था और तीसरा प्रदेश में तेजी से वैक्सीनेशन करवाना, जिससे कोरोना का संकट कम से कम हो सके।

अर्थ-व्यवस्था को नुकसान पहुँचाए बिना कोरोना नियंत्रण
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पूरा लॉकडाउन अर्थ-व्यवस्था को ध्वस्त और लोगों को बेरोजगार कर देता है। हमारा पूरा प्रयास रहेगा कि अर्थ-व्यवस्था को नुकसान भी न पहुँचे और हम कोरोना के संकट से प्रदेश को सुरक्षित बाहर निकाल पाएँ। इसके लिए जो भी आवश्यक उपाय होंगे, किए जाएंगे।

‘मेरा मास्क-मेरी सुरक्षा’ अभियान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए जन-जागरूकता बहुत आवश्यक है। इसके लिए प्रदेश में ‘मेरा मास्क-मेरी सुरक्षा’ अभियान संचालित किया जा रहा है। इसके अंतर्गत लोगों में मास्क बाँटे जा रहे हैं तथा उन्हें मास्क पहनने के लिए जागरूक किया जा रहा है। मास्क पहनने से कोरोना से 90 प्रतिशत सुरक्षा होती है।

घर पर ही मनाये आगामी त्यौहार
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना का संक्रमण न फैले इसके लिए सभी लोग आगामी त्यौहार घर पर ही रहकर पूरी श्रद्धा एवं आस्था के साथ मनाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिन जिलों में कोरोना के 20 से अधिक प्रकरण हैं वहाँ होलीका दहन एवं शबे-बारात प्रतीकात्मक रूप से ही हों। कहीं भी भीड़ नहीं हो, इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए।

ये सावधानियाँ बरतें
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सभी लोग मास्क अनिवार्य रूप से लगाएँ, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, हाथों को साफ रखें, सेनेटाइज करते रहें तथा निर्धारित कार्यक्रम अनुसार वैक्सीन अवश्य लगवाएँ। मास्क आपको संक्रमित होने से बचाता है, सोशल डिस्टेंसिंग से आप कोरोना के कैरियर नहीं बनते, सैनिटाइजर कोरोना वायरस को मारता है। वैक्सीनेशन से कोरोना के विरुद्ध आपके शरीर में प्रतिरोधक क्षमता उत्पन्न होती है। अतः कोरोना से बचने के लिए इन सभी सावधानियों का आवश्यक रूप से पालन करें।

30 अप्रैल तक गाइडलाइन दरों पर ही रजिस्ट्री
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आगामी 30 अप्रैल तक प्रचलित गाइडलाइन दरों पर ही रजिस्ट्री होंगी, दर नहीं बढ़ाई जाएगी। अतः रजिस्ट्री कराने में जल्दबाजी न की जाए।

समर्थन मूल्य पर खरीदी 27 मार्च से
प्रदेश के उज्जैन एवं इंदौर संभागों में समर्थन मूल्य पर गेहूँ की खरीदी 27 मार्च से प्रारंभ हो रही है। शेष संभागों में खरीदी 1 अप्रैल से प्रारंभ होगी। साथ ही सभी संभागों में 27 मार्च से ही चना, मसूर एवं सरसों की समर्थन मूल्य पर खरीदी प्रारंभ हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here