कोविड-19 और मंकीपाॅक्स बाद अब आया Tomato flu

0

कोविड-19 और मंकीपाॅक्स के बाद अब देश में टोमैटो फीवर नाम की बीमारी के मामले बढ़ते जा रहे हैं। टोमैटो फीवर ने हेल्थ एक्सपर्ट की चिंता बढ़ा दी है। बता दें कि, टोमैटो फीवर देश में तेजी से फैल रहा है और अब तक इससे संक्रमित 82 मामले सामने आ चुके हैं। भारत के केरल राज्य में 5 साल से कम उम्र के बच्चों में टोमैटो फीवर काफी तेजी से फैल रहा है। लैंसेट रेस्पिरेटरी जनरल के अनुसार केरल के कोल्लम में 6 मई को टोमैटो फीवर का पहला मामला सामने आया था। कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति और एचएफएमडी या टोमैटो फीवर से पीड़ित व्यक्ति के लक्षण सामान्य है।

टोमैटो फीवर और कोविड-19 के लक्षण समान
अगर टोमैटो फीवर के लक्षण की बात करें तो इसके लक्षण कोविड-19 के सामान बताए जा रहे हैं। हैंड, फुट, माउथ डिजीज जिसे टोमैटो फीवर के नाम से भी जाना जाता है। टोमैटो फीवर के वायरस में कोविड-19 के सामान्य लक्षण दिखाई देते हैं। इन लक्षणों में शुरू में बुखार, थकान और शरीर में दर्द शामिल है। कुछ कोविड-19 मरीज के स्किन पर चकत्ते भी दिखाई देते हैं। हालांकि टोमैटो फीवर पैदा करने वाला वायरस एसएआरएस-सीओवी-2 से संबधित नहीं है।

लैंसेट की रिपोर्ट में कहा गया है कि, टोमैटो फीवर वाले बच्चों में प्राथमिक लक्षण चिकनगुनिया के समान होते हैं। जिसमें तेज बुखार चकत्ते और जोड़ों में तेज दर्द शामिल है। पूरे शरीर में लाल और दर्दनाक फफोले के फटने के आधार पर टोमैटो फलू नाम दिया गया है। जो धीरे-धीरे टमाटर जैसा हो जाता है।

टोमैटो फलू के साथ स्किन पर रैशेज दिखाई देते हैं, जिससे त्वचा में जलन होती है। अन्य वायरल संक्रमण की तरह के लक्षण में थकान, मतली, उल्टी, दस्त, बुखार, सूखापन जोड़ों में सूजन, शरीर में दर्द जैसे लक्षण शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here