कोरोना काल में तनाव से बचने के लिए प्रेग्नेंट महिलाओं को खाना चाहिए ये हैल्दी फूड्स

0

प्रेगनेंसी के दौरान हार्मोनल बदलाव के कारण महिलाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है, जिसमें में से एक है तनाव। मगर, प्रेगनेंसी में तनाव लेने से भ्रूण के मस्तिष्क विकास पर असर पड़ता है, खासकर कोरोना काल में महिलाओं को ज्यादा शांत और टेंशन फ्री रहने की जरूरत है। ऐसे में इसके लिए आप अपनी डाइट में कुछ हैल्दी फूड्स शामिल कर सकती हैं। चलिए आज हम आपको कुछ हैल्दी फूड्स के बारे में बताते हैं, जिन्हें डाइट में शामिल करके आप कई तरह की हैल्थ प्रॉब्लम्स से बच सकते हैं।

​डेयरी प्रोडक्‍ट्स
भ्रूण के बेहतर विकास और तनाव से बचने के लिए गर्भवती महिलाएं अपनी डाइट में डेयरी फूड्स जैसे फैट फ्री योगर्ट खाएं। इसमें मौजूद कैल्शियम, पोटेशियम, विटामिन एक और डी महिलाओं की सेहत के लिए फायदेमंद होता।

​विटामिन-सी फूड्स
विटामिन-सी इम्‍यूनिटी बढ़ाने के साथ स्‍ट्रेस हार्मोंस को भी रिलीज करता है। संतरे में सबसे ज्‍यादा विटामिन सी हो है और आप इसका जूस भी पी सकती हैं। इसके लिए आप डाइट में केल, संतरे का जूस, नींबू पानी, पालक, नट्स, कीवी, अमरूद आदि खा सकती हैं।

​साबुत अनाज
साबुत अनाज तनाव और एंग्‍जायटी को कम करने में मदद करता है क्योंकि इनमें मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में होता है। इसके लिए आप गेहूं, ब्राउन राइस और जौ आदि खा सकती हैं।

हरी सब्जियां
शांत और एनर्जेटिक रहने के लिए प्रेग्नेंट महिलाएं डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियां, टमाटर, लहसुन, प्याज, मटर, मशरूम, कद्दू आदि भी खाएं। साथ ही इससे इम्यूनिटी भी बूस्ट होगी।

सी- फूड्स
सी फूड्स जैसे फैटी फिश में ओमेगा-3 फैटी एसिड भरपूर होता है। साथ ही इसमें हैल्दी फैट व अन्य पोषक तत्व भी होते हैं जो प्रेगनेंसी में आपको स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।

जिंक और सेलेनियम फूड्स
WHO के अनुसार, प्रग्नेंट महिलाओं को रोजाना 06 मिलीग्राम सेलेनियम व जिंक की जरूरत होती है। यह ना सिर्फ महिला को तनावमुक्त रखता है बल्कि इससे भ्रूण का विकास भी बेहतर तरीके से होता है। इसके लिए आप अंडे, टूना मछली, कॉटेज चीज, ब्राउन राइस, ​सूरजमुखी के बीज, मशरूम आदि खा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here