पूर्व मंत्री आजम खान की सेहत में सुधार, कोरोना रिपोर्ट आई निगेटिव

0

समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और लोकसभा सांसद आजम खान की कोरोना रिपोर्ट सोमवार को नेगेटिव आई है. वह पिछले कई दिनों से लखनऊ के मेदांता अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे थे. कोरोना होने के बाद उन्हें मेदांता के कोविड आईसीयू वार्ड में शिफ्ट किया गया था.

मेदांता अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर डॉ राकेश कपूर ने बताया कि क्रिटिकल केयर मेडिसिन और नेफ्रोलॉजी डिपार्टमेंट के डॉक्टरों द्वारा किए जा रहे प्रॉपर इलाज के कारण आज आज़म खान की कोविड रिपोर्ट नेगेटिव आई है और उनको कोविड के आईसीयू वार्ड से हटाने के लिए हम लोग विचार कर रहे हैं.

डॉ राकेश कपूर बताते हैं कि आईसीयू वार्ड से शिफ्ट करने के उपरांत भी उनको क्रिटिकल केयर और नेफ्रोलॉजी टीम की निगरानी में ही रखा जाएगा. उनकी तबीयत अभी स्थिर है और हमारे डॉक्टर्स के कंट्रोल में है. डॉक्टर कपूर ने आगे कहा कि सपा नेता आजम खान के फेफड़ों में पोस्ट कोविड फाइब्रोसिस और कैविटी के चलते चेस्ट इंफेक्शन हो गया था और इसके बाद उनकी किडनी पर भी असर दिख रहा था. जिसके चलते उनका इलाज शुरू किया गया और आज उनकी तबीयत में सुधार देखने को मिला है.

उन्होंने कहा कि आजम खान की कोरोना रिपोर्ट भी नेगेटिव आ गई है. वहीं लोकसभा सांसद आजम खान के बेटे मोहम्मद अब्दुल्ला आजम पर बताते हुए डॉ. कपूर ने कहा कि उनकी रिपोर्ट तो पहले ही निगेटिव आ चुकी है और उनकी स्थिति अब पहले से काफी बेहतर है. हालांकि उनको भी सीसीएम और नेफ्रोलॉजी की एक्सपर्ट की टीम की निगरानी में रखा गया है और वह उनका बेहतर इलाज कर रहे हैं.

बता दें,आजम खान 1 मई को सीतापुर जेल में कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. उन्हें सर्दी जुकाम की शिकायत थी. जिसके बाद जेल प्रशासन ने उनका कोविड टेस्ट करवाया और वह संक्रमित पाए गए. मालूम हो कि आजम खान फरवरी 2020 से ही सीतापुर जेल में बंद थे.

उन पर रामपुर में अवैध जमीन कब्जाने और फर्जी प्रमाणपत्र बनाने जैसे कई आरोप लगे हैं. आजम के बेटे अब्दुल्ला पर भी फर्जी प्रमाणपत्र से जुड़े कई मामले दर्ज हैं और वे भी पिता संग जेल में ही बंद थे. हालांकि अभी पिता-पुत्र लखनऊ के मेदान्ता अस्पताल में भर्ती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here