भारत के साथ सीमा मुद्दों का समाधान राजनयिक तरीकों से किया जाएगा: ओली

0

नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली ने शुक्रवार को कहा कि भारत के साथ सीमा मामले से संबंधित लंबित मुद्दों का समाधान ऐतिहासिक समझौतों, मानचित्रों और तथ्यात्मक दस्तावेजों के आधार राजनयिक तरीकों के माध्यम से किया जाएगा।

राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी द्वारा सदन को भंग किए जाने के एक सप्ताह बाद ओली ने टेलीविजन पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि नेपाल के अंतरराष्ट्रीय संबंध परस्पर लाभ और एक दूसरे के सम्मान पर आधारित होंगे। अल्पमत सरकार का नेतृत्व कर रहे ओली ने कहा, ‘‘नेपाल के अंतरराष्ट्रीय संबंध परस्पर लाभ और एक-दूसरे के सम्मान पर आधारित होंगे और समानता, न्याय और समझ के आधार पर मित्र देशों से सहयोग मांगा जाएगा।”

उन्होंने कहा कि भारत के साथ सीमा मुद्दे से संबंधित लंबित मुद्दों का समाधान ऐतिहासिक समझौतों, मानचित्रों और तथ्यात्मक दस्तावेजों के आधार पर राजनयिक तरीकों के माध्यम से किया जाएगा। ओली ने आवश्यक चिकित्सा आपूर्ति प्रदान कर कोरोना वायरस संक्रमण को नियंत्रित करने के प्रयास में सरकार की मदद करने के लिए चीन, भारत और अन्य मित्र देशों का आभार व्यक्त किया।

उन्होंने बताया कि नेपाल सरकार ने मित्र देशों से अनुदान के रूप में कोरोना वायरस रोधी टीकों की 32 लाख खुराक प्राप्त की है और कोरोना वायरस के प्रसार के खिलाफ अभियान शुरू करने के लिए दस लाख अतिरिक्त टीके खरीदे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here