पिछले 2 सालों में विश्व स्तर पर बेरोजगारी में बेतहाशा वृद्धि हुई है-ILO

0

नई दिल्ली: अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (आई.एल.ओ.) ने विश्व स्तर पर रोजगार सृजन में लघु एवं मध्यम स्तर के उद्योगों की भूमिका को महत्वपूर्ण करार देते हुए कहा कि इन उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नीतियां बनाने और नए उद्यमियों को प्रोत्साहित करने की जरूरत है।

आई.एल.ओ. ने ‘विश्व रोजगार एवं सामाजिक परिदृश्य’ पर जेनेवा में जारी एक रिपोर्ट में कहा कि पिछले 2 सालों में विश्व स्तर पर बेरोजगारी में बेतहाशा वृद्धि हुई है। इस वर्ष अभी तक 20 करोड़ 10 लाख लोग बेरोजगार हैं, जो वर्ष 2016 के मुकाबले 34 लाख ज्यादा हैं। ये सभी लोग लघु एवं मध्यम स्तर के उद्योगों में कार्यरत थे।

वैश्विक आर्थिक संकट बढऩे के बाद विश्व स्तर पर कर्मचारियों के लिए पूर्णकालिक अवसर कम हुए हैं। आई.एल.ओ. के उप-महानिदेशक डेबोरा ग्रीनफील्ड ने कहा कि लघु एवं मध्यम स्तर के उद्योगों में रोजगार सृजन में स्थिरता की स्थिति को समाप्त करने के लिए नीतियों में बदलाव करना होगा। उन्होंने कहा कि छोटे उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नीतियां बनाने और नए उद्यमियों को प्रोत्साहन देने की जरूरत है।