ये वृक्ष नही है संजीवनी बूटी से कम, कैंसर जैसे रोग को भी कर देता है ठीक

0

छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में पाया जाने वाला ये वृक्ष किसी संजीवनी बूटी से कम नही है। इस दुर्लभ प्रजाति के वृक्ष का नाम दहीमन है। अब हम आपको इस मामूली से दिखने वाले वृक्ष की खासियत बताते हैं। इस पेड़ के फायदे के बारे में सुनकर आप शायद सोच रहे होंगे कि यह सब बातें काल्पनिक होंगी, लेकिन यही सच है। कैंसर, ब्लड प्रेशर, पीलिया और मानसिक रूप से पीडि़त लोगों के लिये ये पेड़ संजीवनी का काम करता है।

इस पेड़ के पत्तों की एक खासियत ये भी है कि इस पर अगर आप कुछ लिखेंगे तो उसके अक्षर उभरकर आ जाएंगे। इसके पीछे यह भी कहा जाता है कि आदि काल में गुप्तचरों द्वारा इस पत्ते पर लिखकर संदेशों का आदान-प्रदान किया जाता था, जिसे आप प्रत्यक्ष रूप में देख सकते हैं।

वन विभाग के अधिकारी भी इस बात को पूरी तरह जानते हैं और इसके संरक्षण का उपाय भी विभाग द्वारा किया जा रहा है और खास बात यह है कि पूर्व वित्त मंत्री रामचन्द्र सिंह देव द्वारा इस वृक्ष के पौधों को संसद भवन दिल्ली तक भेजा गया है। कोरिया जिले में इस दुर्लभ प्रजाति के पौधों को अभी कई लोग पूरी तरह वाकिफ नहीं है इसलिए यह वृक्ष अभी बचे हुए हैं। व्यापक प्रचार-प्रसार भी विभाग द्वारा इसलिए नहीं किया जाता कि लोगों के द्वारा इस वृक्ष को कोई नुकसान न पहुंचाया जाए।