जाने किन पौधों की जड़ और तना हो सकते हैं खतरनाक

0

चुकंदर, पालक और गाजर की पत्तियां और तना दोनों बहुत फायदेमंद हैं लेकिन कुछ पौधे ऐसे भी हैं जिनके जड़ और तने सेहत के लिए नुकसानदेह होते हैं, कुछ तो जानलेवा भी हो सकते हैं।

जानना चाहेंगे, किन पौधों की जड़ और तना हो सकते हैं खतरनाक…

सेब के बीज

सेब के बीजों में साइनाइड जहर होता है। इन बीजों में एमेग्डलाइन रहता है जो पेट में डाइजेस्टिव एंजाइम से प्रतिक्रिया करने पर साइनाइड रिलीज करता है। प्रकृतिक तौर पर बीजों की कोटिंग काफी हार्ड होती है जिसे तोड़ पाना आसान नहीं है। ऐसे में अगर बिना चबाए आप बीज केवल निगल लेते हैं तो घबराने की बात नहीं है लेकिन इसको चबाकर निगलने पर पेट में साइनाइड रिलीज होता है जिससे तबीयत खराब हो सकती है

एसपैरागस बेरी

ये झाड़ियों में पकने वाले बेरी हैं जो बच्चों को काफी पसंद आती है। ये बेरी जहरीली होती है। इनमें सेपोजेनिन्स होता है जो आपको बीमार कर देता है। ये सेपोजेनिन्स इंसानों के लिए टॉक्सिक का काम करता है और जानवरों के लिए जहर की तरह काम करता है। अगर आप इन बेरियों को खाते हैं तो आपको उल्टी और दस्त हो सकते हैं।

हरे आलू

आलू नाइटशैड फैमिली में आता है। इस फैमिली के पौधे अपने में टॉक्सिक कंपाउंड सोलेनाइन जमा करते हैं जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

टमाटर की पत्तियां
टमाटर भी आलू के संबंधित परिवार में आते हैं जिससे ये भी स्वास्थ्य के लिए अच्छे नहीं माने जाते। यूरोप में तो 200 साल से ज्यादा तक तो इसका इस्तेमाल करने से भी लोग डरते थे। टमाटर की पत्तियों में सोलेनाइन और टोमाटाइन होता है जो पेट दर्द का कारण बन सकता है।

बैंगन के पत्ते और फूल
बैंगन नाइटसेड के तहत आने वाला पौधा है। बैंगन के पत्ते और फूल स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाते हैं। इसकी पत्तियोंऔर फूलों में टॉक्सिक सोलेनाइन होता है जिससे पेट और सिर में दर्द हो सकता है।