यह मोदी है जो झुकने वाला नहीं है। : पीएम मोदी

0

भ्रष्टाचार को विकास और गरीबों के हक के खिलाफ बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि पिछले तीन महीने में मुझ पर क्या-क्या जुल्म हुए हैं। लेकिन जुल्म करने वाले यह समझ ले कि यह मोदी है जो झुकने वाला नहीं है। क्योंकि मैं गरीबों के हक में और बेईमानी के खिलाफ लड़ रहा हूं। उन्होंने लोगों से अपील की कि इसमें उन्हें लोगों का सहयोग चाहिए ताकि एक नए हिंदुस्तान का निर्माण हो सके।

यहां भाजपा-शिअद के पक्ष में प्रचार करने आए प्रधानमंत्री ने भारत माता की जयकारे के साथ लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘मैं यहां भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में आपका सहयोग और मदद मांगने आया हूं। भ्रष्टाचार की जड़ें इतनी गहरी हैं कि मैं अकेले इससे नहीं लड़ सकता।’

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस और मीडिया पर हमला बोलते हुए कहा, ‘भ्रष्टाचार की जड़ें कितनी गहरी हैं, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि कर्नाटक के कांग्रेसी मंत्री के घर से 150 करोड़ रुपये के नए नोट बरामद हुए, लेकिन इसकी चर्चा टीवी-मीडिया में नहीं है। पार्टी ने उस मंत्री को हटाया तक नहीं।’

उन्होंने कहा, पंजाब के किसान अपना पसीना बहा कर देश का पेट भरते हैं। यहां के किसानों को पानी मिल जाए तो वह मिट्टी से सोना पैदा करने की क्षमता रखते हैं। किसानों के विकास के लिए केंद्र सरकार ने उनके कर्ज पर ब्याज माफ करने का फैसला किया।

प्रधानमंत्री ने सतलुज-यमुना संपर्क नहर मामले का जिक्र करते हुए कहा, पंजाब के किसानों को पानी मिलना चाहिए। हम सिंधु नदी का पानी लेकर आएंगे जिससे पंजाब को फायदा होगा। यह पानी पाकिस्तान चला जाता है।

प्रधानमंत्री ने कहा, पंजाब त्याग और बलिदान की धरती है। यह शूर-वीरों, संतो और गुरुओं की धरती है। जवान अपना खून बहा कर मां भारती की रक्षा करता है। प्रदेश तो बहुत हैं, लेकिन पंजाब प्रदेशों से भी ज्यादा कुछ और है। यहां की आन-बान-शान भारत का माथा ऊंचा करती है। उन्होंने कहा, जब-जब देश को जरूरत पड़ी है, पंजाब सीना तान कर खड़ा रहा है। यह बड़े दुख की बात है कि कुछ लोग प्रदेश की आन-बान-शान पर दाग लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा, मैंने एक सपना संजोया है कि 2022 तक देश के हर गरीब के पास मकान होना चाहिए और इसके लिए भी आपके सहयोग की आवश्यकता होगी। इसलिए आप सब अधिक से अधिक संख्या में मतदान कर राज्य में इतिहास रचते हुए फिर से बादल साहब की सरकार बनाएं।