भारत के अनोखे मंदिर, जहां पुरुषों के जाने पर है मनाही

0
128

भारत में ऐसे बहुत से मंदिर हैं जो अपनी-अपनी खासियत के लिए प्रसिद्ध है। वैसे तो आपने उन मंदिरों के बारे में तो सुना ही होगा जहां महिलाओं के जाने पर पांबदी हैं। लेकिन कभी आपने यह सुना हैं कि कुछ मंदिर ऐसे भी हैं जहां पुरूषों के जाने पर पांबदी हैं। जी हां, भारत में कुछ मंदिर ऐसे भी हैं जहां पुरूषों का जाना मना हैं।

1. संतोषी माता का मंदिर (राजस्थान)

इस मंदिर में शुक्रवार के दिन पुरूषों को जाना मना हैं। यह पांबदी भले एक दिन की है, लेकिन यह किसी सजा से कम नहीं हैं। संतोषी माता के मंदिर में पुरूषों को पूजा करने की भी मनाही है। इसके अलावा बाकी अन्य दिनों में वे केवल माता के दर्शन ही कर सकते हैं।

2. माता का मंदिर (बिहार)

इस मंदिर में भी कुछ दिनों के दौरान पुरुषों के जाने पर पाबंदी होती है। इस मंदिर में माता के महीना होने के दौरान पुरुषों के जाने की मनाही है। यहां तक की पुजारी भी इन दिनों माता के दर्शन नहीं करते। अन्य दिनों में पुरुष माता के दर्शन कर सकते हैं।

3. सावित्री का मंदिर (राजस्थान)

यह मंदिर राजस्थान के पुष्कर में है। इस मंदिर से कुछ ही दूरी पर रत्नगिरी पर्वत है, जहां ब्रह्मा जी की पत्नी सावित्री का मंदिर स्थित है, इसलिए इसे सावित्री मंदिर कहा जाता है। इस मंदिर में केवल महिलाएं ही जा सकती हैं पुरूष नहीं।

4. सकलडीहा का मंदिर (बनारस)

सकलडीहा मंदिर बनारस की सीमा पर स्थित है। इस मंदिर में पुरूषों का जाना मना है।
इस मंदिर में केवल महिलाएं ही पूजा-पाठ करती हैं। इस मंदिर से जुड़ी मान्यता है कि अगर कोई पुरुष यहां जबरन प्रवेश करता है तो उसकी किस्मत पलट जाती है। इसलिए कोई पुरुष मंदिर के अंदर नहीं घुसता। केवल बाहर द्वार से ही माता को नमन कर लौट आते हैं।

5. कामाख्या मंदिर (विशाखापत्तनम)

कहा जाता है कि इस मंदिर में मांगी गई मुराद कभी खाली नहीं जाती। लेकिन इस मंदिर में पुरुषों का जाना मना है। इस मंदिर की खासियत है कि यहां पुजारी भी एक स्त्री ही है।