‘‘बदल रहा रतलाम-बन रहा नया रतलाम’’ का स्वप्न 2022 में पूरा होगा – श्री काश्यप

0

रतलाम 22 अक्टूबर 2017 । कार्यकर्ताओं के दम पर आज भाजपा नगर से देश तक सत्ता में काबिज है। उनका जिस विचारधारा के प्रति समर्पण है, उसे पूरा देश मान रहा है। इसलिए सभी इस विचारधारा को ओर मजबूत बनाने के लिए संकल्पित हो। पिछले चार वर्षों के दौरान शहर के विकास की सुनियोजित रणनीति पर कार्य किया गया है, जिससे वर्ष 2022 तक ‘‘बदल रहा रतलाम-बन रहा नया रतलाम’’ का स्वप्न पूरा होगा। इससे शहर फिर से मालवा-निमाड़ के एक प्रमुख केन्द्र के रूप में स्थापित होगा।

यह बात राज्य योजना आयोग उपाध्यक्ष, विधायक चेतन्य काश्यप ने अपने निवास पर आयोजित भाजपा कार्यकर्ताओं के दीप मिलन समारोह में कही। रतलाम के विकास का ताना-बाना प्रस्तुत करते हुए श्री काश्यप ने कहा कि भाजपा पं. दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के दर्शन को लेकर चलने वाली पार्टी है, जिसका आशय ही अंतिम व्यक्ति की चिंता करना है। म.प्र. में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने अंत्योदय के दर्शन पर शत-प्रतिशत अमल कर हर व्यक्ति के हित की योजनाएं बनाई है। चार वर्षों पूर्व कार्यकर्ताओं की मेहनत ने रतलाम में भाजपा की जीत का नया इतिहास रचकर उन्हें विधायक बनाया था। इससे पूर्व किसी भी दल का प्रत्याशी 40 हजार से अधिक मतों से चुनाव नहीं जीता था। शहरवासियों ने जिस विश्वास के साथ उन्हें विधायक चुना था, उस पर खरे उतरने का पूरा प्रयास उन्होंने किया है।

श्री काश्यप ने कहा कि विधानसभा चुनाव के दौरान उनके प्रति कई भ्रम फैलाए गए थे, लेकिन उनकी ग्यारंटी कमल का फुल व भाजपा के कार्यकर्ता थे और उन्हीं की वजह से रतलाम की जनता ने इतिहास रचा। चुनाव जीतने के पश्चात रतलाम के विकास की सुनियोजित कार्ययोजना पर कार्य किया गया। नतीजतन मेडिकल कॉलेज अगले वर्ष से शुरू होने की स्थिति में है। इसके साथ ही शहरवासियों को 750 बिस्तर का अस्पताल एवं ओर भी अन्य कई सुविधाएं मिलेगी। नमकीन क्लस्टर की विभिन्न बाधाएं दूर कर उसे भी दिसम्बर से आरंभ करने की योजना है। गोल्ड कॉम्प्लेक्स का कार्य भी तेज गति से चल रहा है। मेडिकल कॉलेज, नमकीन क्लस्टर और गोल्ड कॉम्प्लेक्स के प्रकल्पों से रतलाम में 15-16 हजार युवाओं के लिए रोजगार के अवसर भी निर्मित होंगे, जिससे शहर के विकास को नई गति मिलेगी। आजादी के पूर्व रतलाम मालवा-निमाड़ का प्रमुख व्यापारिक केन्द्र हुआ करता था, लेकिन बाद में इंदौर आगे बढ़ गया। 4 वर्षों के दौरान शहर के योजनाबद्ध विकास की, ऐसी आधारशिलाएं रखी गई है, जिनसे वर्ष 2022 तक रतलाम पुनः नए रूप में मालवा-निमाड़ का प्रमुख केन्द्र बन जाएगा।

श्री काश्यप ने बताया कि गुुरूदेव लोकसन्त श्रीमद् जयन्तसेन सूरीश्वरजी म.सा. व आचार्य श्री महाप्रज्ञजी से राजनीति के माध्यम से लाखों-करोड़ों लोगों का फायदा होने की प्रेरणा मिली थी। अहिंसाग्राम बनाने के बाद वे गरीबी हटाने का मकसद लेकर राजनीति में आए थे, उन्हें गर्व है कि उनके प्रयासों से देश में सबसे पहले म.प्र. आवास का अधिकार देने वाला राज्य बना है। रतलाम में इसके तहत 6 हजार आवासों का निर्माण हो रहा है। उन्होंने पिछले वर्ष अपनी मातुश्री तेजकुंवरबाई काश्यप की 75वीं वर्षगांठ पर गरीबों के आवास निर्माण में मदद के लिए साढ़े सात करोड़ रूपए का कोष बनाया था। इस कोष से अब डोसीगांव में बनने वाले आवासों के हितग्राहियों को मदद दी जाएगी।

समारोह के आरंभ में ग्रामीण विधायक मथुरालाल डामर, महापौर डॉ. श्रीमती सुनीता यार्दे व राज्य कृषक आयोग अध्यक्ष ईश्वरलाल पाटीदार ने भी विचार रखें। इस मौके पर श्री काश्यप का विभिन्न प्रतिनिधि मण्डलों ने अभिनन्दन कर दीप पर्व की शुभकामनाएं दी। संचालन भाजपा के जिला उपाध्यक्ष मनोहर पोरवाल ने किया। इस दौरान पूर्व जिलाध्यक्ष कन्हैयालाल मौर्य, बजरंग पुरोहित, जिला पंचायत अध्यक्ष परमेश मईड़ा, मण्डी अध्यक्ष प्रकाश भगौरा, किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष रतनलाल लाकड़, अजजा मोर्चा जिलाध्यक्ष नंदलाल तोषावड़ा, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष पदमा जायसवाल, भाजपा जिला कोषाध्यक्ष प्रदीप चौधरी, जिला महामंत्री प्रदीप उपाध्याय, पूर्व महापौर शैलेन्द्र डागा, नगर निगम अध्यक्ष अशोक पोरवाल, मण्डल अध्यक्ष रमेश बदलानी, संतोष पोरवाल, जयवन्त कोठारी, भाजयुमो जिलाध्यक्ष सोनू यादव, जनप्रतिनिधि सहित पार्षदगण, पार्टी पदाधिकारी व बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here