पुर्तगाल ने स्पेन को हराकर पहली बार जीता फुटसाल यूरो कप

0

ब्रुनो कोएल्हो के दो गोलों की बदौलत पुर्तगाल ने फुटसाल यूरो कप के फाइनल में स्पेन को 3-2 से हराकर पहली बार खिताब अपने नाम किया। समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, विश्व के सबसे बेहतरीन खिलाडिय़ों में शुमार पुर्तगाल के रिकार्दिन्हो ने शनिवार को हुए फाइनल मैच के शुरू होने के एक मिनट के भीतर ही पहला गोल कर पुर्तगाल को बढ़त दिला दी।

इसके बाद, स्पेन की टीम जल्दी-जल्दी दो गोल कर मैच में 2-1 से आगे हो गई। स्पेन लगातार दूसरी बार यूरो कप पर कब्जा करने के करीब थी तभी पुर्तगाल के ब्रुनो कोएल्हो ने गोल कर अपनी टीम को बराबरी पर ला खड़ा किया। कोएल्हो के गोल के कारण मैच अतिरिक्त समय में पहुंच गया, जहां कोएल्हो ने पेनल्टी से मैच का अपना दूसरा गोल कर पहली बार पुर्तगाल को खिताबी जीत दिलाई।

इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) के क्लब मैनचेस्टर युनाइटेड के कोच जोस मोरिन्हो ने कहा कि वह लीग में सबसे अच्छा व्यवहार करने वाले कोच हैं और सीजन के अंत में वह इस अवार्ड के भी हकदार होंगे। स्काई स्पोट्र्स ने रविवार को मोरिन्हो के हवाले से लिखा है कि मैं इस बार सबसे अच्छा व्यवहार करने वाले प्रशिक्षक का अवार्ड जीतने के लिए प्रतिबद्ध हूं। मैं काफी गंभीर हूं।

पुर्तगाल के मोरिन्हो ने कहा, कई तरह के अवार्ड होते हैं, परफॉर्मेंस ऑफ द वीक, मैनेजर ऑफ द मंथ, यह और वह। उन्हें एक अवार्ड उसको भी देना चाहिए जो टचलाइन पर सबसे अच्छा व्यवहार करता है। मोरिन्हो (55) ने कहा कि उन्होंने इस सीजन में कभी मैच अधिकारियों के साथ गलत व्यवहार नहीं किया, इसलिए वह अवार्ड के हकदार हैं।

मोरिन्हो ने कहा कि मैं इस बात को लेकर आश्वस्त हूं कि मैं यह अवार्ड जीतूंगा। मैं इसे लेकर गंभीर हूं! मैंने टचलाइन पर मौजूद चौथे अंपयार से एक भी गलत व्यवहार नहीं किया। मुझे सिर्फ पैर खेल के मैदान पर रखने के लिए साउथहैम्पटन में रेड कार्ड मिला, इसके अलावा और कुछ नहीं।